Breaking News
Home / Govt. Initative / प्रधानमंत्री वय वंदना योजना, इस सरकारी पेंशन योजना का लाभ मिलेगा अब 31 मार्च 2023 तक, जानिए योजना के बारे में :

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना, इस सरकारी पेंशन योजना का लाभ मिलेगा अब 31 मार्च 2023 तक, जानिए योजना के बारे में :

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना :

केंद्र सरकार प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के नाम से एक पेंशन योजना चला रही है।  यदि आप सीनियर सिटीजन की श्रेणी में आते हैं तो आप इस योजना का लाभ अभी भी ले सकते हैं। प्रधानमंत्री वय वंदना योजना की सदस्यता के लिए केवल 31 मार्च 2023 तक का समय है। इसमें निवेश करके हर महीने 9 हजार रुपए तक की पेंशन राशि प्राप्त की जा सकती है। यह योजना रिटायरमेंट के बाद आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए है। हर व्यक्ति अपनी वृद्धावस्था में किसी भी तरह से आर्थिक स्थिति में कोई समस्या न आए इसके लिए तरह तरह से पैसों की बचत करता है। इसके लिए सरकार ने प्रधानमंत्री वय वंदना योजना चलाई है। इसमें पैसे निवेश करके हर व्यक्ति हर महीने अपनी पेंशन राशि ले सकता है। इस योजना में पति-पत्नी दोनों साथ में भी निवेश कर सकते हैं।प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का लाभ जिन व्यक्तियों को लेना है, उन्हें कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना होगा। इस योजना में किसी भी व्यक्ति की उम्र 60 साल या उससे अधिक होनी चाहिए।

योजना क्या है ?

यह एक पेंशन योजना है। प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के अंतर्गत हर महीने पेंशन लेने वाले लोगों को उनके निवेश किए गए पैसों पर 10 साल तक हर साल 7.40 % की दर से ब्याज मिलता है। इस योजना के अंतर्गत हर सीनियर सिटीजन 15 लाख रुपए तक निवेश कर सकता है। पॉलिसी की अवधि 10 साल है। इसमें आप हर महीने, तिमाही, छह माह और सालाना निवेश कर सकते हैं। साथ ही न्यूनतम पेंशन क्रमशः 1,000 महीना, 3,000 तिमाही, 6,000 छमाही और 12,000 रुपये वार्षिक लाभ ले सकते हैं। अधिकतम पेंशन जो अर्जित की जा सकती है, वह क्रमशः 10,000 रुपये महीना, 30,000 तिमाही, 60,000 छमाही और सालाना 1,20,000 रुपये पेंशन का लाभ ले सकते हैं।

योजना कब शुरू हुई ?

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री वय वंदना नाम से पेंशन योजना की शुरुआत 4 मई 2017 में की थी। लेकिन अब आपको इस योजना का लाभ 31 मार्च 2023 तक मिल सकता है। केंद्र सरकार ने वर्ष 2018 – 2019 के बजट भाषण में प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के अंतर्गत अधिकतम सीमा बढ़ाकर 7.50 लाख से 15 लाख रुपए तक कर दिया है।

LIC ( भारतीय जीवन बीमा कंपनी ) दे रही इस योजना का लाभ :

इस योजना को आप LIC ( भारतीय जीवन बीमा कंपनी ) से ले सकते हैं। LIC से इस योजना को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीके से ले सकते हैं। केंद्र सरकार ने LIC द्वारा इस योजना की शुरुआत खासतौर पर सीनियर सिटीजन के लिए ही की है।

कितना निवेश करने पर पेंशन कितनी मिलेगी :

यदि 60 साल का कोई सीनियर सिटीजन एक बार में 1.62 लाख रुपए तक निवेश करता है तो उसे हर महीने एक हजार रुपए की पेंशन राशि प्राप्त होती है। पेंशन राशि को इकट्ठा साल में एक बार भी लिया जा सकता है। इस योजना के अंतर्गत यदि कोई सीनियर सिटीजन 15 लाख रुपए तक निवेश करता है तो उसे अधिकतम 9250 रुपए की हर महीने पेंशन मिलती है। देश के सीनियर सिटीजन को वृद्धावस्था में उनकी आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए पेंशन प्रदान करना ही प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का मुख्य उद्देश्य है।

इनकम टैक्स पर छूट नहीं मिलती :

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में निवेश करने वालों को इनकम टैक्स पर किसी भी तरह की छूट नहीं मिलती है। यदि कोई भी सीनियर सिटीजन इस योजना में निवेश करता है तो इसमें GST पर छूट मिलती है। साथ ही इस योजना में मासिक और वार्षिक दोनों तरह से पेंशन लेने की सुविधा उपलब्ध है।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया :

जो भी प्रधानमंत्री वय वंदना योजना  के लिए आवेदन करना चाहते है तो वह ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों ही तरह से आवेदन कर सकते है। ऑनलाइन आवेदन आप  LIC की Official Website पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करके पालिसी खरीद  कर सकते है तथा ऑफलाइन आवेदन LIC की ब्रांच पर जाकर कर सकते है और प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2022 का लाभ उठा सकते है |

नीचे दिए गए तरीके का पालन करके तथा आनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

  • सर्वप्रथम आवेदक को LIC की official website  पर जाना होगा |
  • Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा |
  • इस होम पेज पर आपको Reeigstration के ऑप्शन  दिखाई देगा आपको उस विकल्प पर क्लिक करना होगा |इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा |इसके पश्चात् आपको फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम पता ,आधार नंबर आदि भरना होगा |
  • सभी जानकारी भरने के पश्चात् आपको अपने सभी दस्तावेज़ों को अपलोड करना होगा और फिर आखिर में सब्मिट के बटन पर क्लिक करना होगा |
  • इस तरह आपका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन पूरा हो जायेगा |
आफलाइन आवेदन करने के लिए निम्न प्रक्रिया अपनानी होगी।
  • सर्वप्रथम आवेदक को अपने निकटतम एलआईसी शाखा से संपर्क करना होगा | इसके बाद शाखा में जाकर वह के अधिकारी को अपने सभी दस्तावेज़ों को देना होगा और अपनी सभी जानकारी देनी होगी |
  • LIC एजेंट आपका इस योजन के अंतर्गत आवेदन कर देगा | आवेदन का सत्यापन होने के बाद एलआईसी एजेंट इस योजना की आपकी पॉलिसी को शुरू कर देगा |

आवश्यक दस्तावेज :

इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए निम्न जरूरी दस्तावेजों का होना अति आवश्यक है।
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • आयु का प्रमाण
  • आय का प्रमाण
  • निवास का प्रमाण
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का लाभ उठाने के लिए योग्यताएं :

  • जो प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का लाभ लेना चाहते हैं उनका भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक की न्यूनतम आयु 60 वर्ष होनी चाहिए।
  • अधिकतम आयु की इस योजना के अंतर्गत कोई सीमा नहीं है।
  • इस योजना के अंतर्गत पॉलिसी की अवधि 10 साल है।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का उद्देश्य :

प्रधान मंत्री वय वंदना योजना का मुख्य उद्देश्य भारत के सीनियर सिटीजन को पेंशन प्रदान करना है। यह पेंशन उनको उनके द्वारा किए गए निवेश पर ब्याज देकर प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से देश के सीनियर सिटीजन आत्मनिर्भर बनेंगे और उन्हें वृद्धावस्था में दूसरों पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। इस योजना के माध्यम से सीनियर सिटीजन में आर्थिक रूप से मजबूत रहेंगे।इस योजना का मुख्य उद्देश्य सीनियर सिटीजन को ब्याज दरों में कमी के दौरान नियमित पेंशन देना है।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के लाभ :

  • यह योजना एक निवेश योजना है।
  • 60 वर्ष से ऊपर की आयु वाले सभी नागरिक 1500000 रुपए तक का निवेश 31 मार्च 2023 से पहले कर सकते हैं।
  • निवेश के आधार पर नागरिकों को 1000 रुपए से लेकर 9250 रुपए हर महीने की पेंशन प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से मिलने वाले रिटर्न पर मौजूदा कर कानूनों और समय-समय पर लागू की गई कर की दर के अनुसार कर लगाया जाता है।
  • इसके अलावा इस योजना को जीएसटी से छूट प्रदान की गई है।
  • सभी सामान्य बीमा इंश्योरेंस मे टॉम इंश्योरेंस पर 18% जीएसटी लगाया जाता है। लेकिन प्रधानमंत्री वय वंदना योजना पर जीएसटी नहीं लगाया जाता।
  • आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के अंतर्गत इस योजना के अंतर्गत निवेश करने वाले नागरिक द्वारा कटौती का दावा नहीं किया जा सकता।

Check Also

मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना: पढ़ाई के लिए 25000 रुपए मुफ्त दे रही मध्यप्रदेश सरकार, जल्दी करें आवेदन-

जाने योजना के बारे में: बहुत से ऐसे लोग हैं जो आर्थिक स्थिति ठीक न ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *