Breaking News
Home / Govt. Initative / कन्या सुमंगला योजना से अब उत्तर प्रदेश सरकार उठाएगी पूरी जिम्मेदारी आपकी लाड़ली बेटी के जन्म से लेकर शादी तक की

कन्या सुमंगला योजना से अब उत्तर प्रदेश सरकार उठाएगी पूरी जिम्मेदारी आपकी लाड़ली बेटी के जन्म से लेकर शादी तक की

उत्तर प्रदेश सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की सुविधा के लिए कन्या सुमंगला योजना चलाई है। वैसे तो भारत की बेटियों ने अपना वर्चस्व स्थापित कर लिया है लेकिन आज भी कहीं-कहीं बेटियों की स्थिति में सुधार नहीं हुआ है। इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार ने इस खास योजना ( उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना ) की शुरुआत की है। ताकि भारत की बेटियों का भविष्य सुरक्षित हो जाए। यह योजना बेटियों के लिए एक सुरक्षा कवच है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कन्या सुमंगला योजना को 1 अप्रैल 2019 को आरंभ किया गया था।

बेटियों का पूरा खर्चा उठाएगी अब सरकार 

उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना में बेटियों के जन्म से लेकर पढ़ाई और शादी तक का पूरा खर्चा अब सरकार उठाएगी। ताकि भारत की बेटियों की पढ़ाई में कोई रुकावट न आए और वह पढ़ लिख कर अपने पैरों पर खड़ी हो जाए। इससे समाज में दहेज प्रथा और भ्रुण हत्या जैसी कुरीतियों का समापन हो जाए। हर कोई आसानी से इस योजना का लाभ उठा सकता है।

किसे मिल सकता है लाभ

जिन बेटियों का जन्म 1 अप्रैल 2019 के बाद हुआ है। यह योजना सिर्फ उन्हीं के लिए है। इसका फायदा उत्तर प्रदेश की बेटियां ही उठा सकती हैं।
 (उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना ) का लाभ सिर्फ उन्हीं माता पिता को मिलेगा जिनकी आय 3 लाख रुपए सालाना तक होती है और जिनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। याद रहे कि एक परिवार से सिर्फ दो बेटियों को ही लाभ मिल सकता है। यदि आपकी पहली संतान दो जुड़वां बेटियां हैं तो आपकी तीसरी बेटी को भी इसका लाभ मिल सकता है। सबसे अच्छी और खास बात तो यह है कि आपने किसी बेटी को गोद लिया है तो भी आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

योजना के लाभ

अब तक इस योजना का 9.36 लाख बेटियां लाभ उठा चुकी हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने कन्या सुमंगला योजना के लिए 1200 करोड़ का बजट निर्धारित किया है। आपके सिर्फ 10 रुपए खर्च होंगे और आप उत्तर प्रदेश की इस महत्वपूर्ण योजना ( कन्या सुमंगला योजना ) का लाभ उठा सकते हैं। उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना में 6 किश्तों में आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी:
  1. पहली किश्त में बेटी के समय 2000 रुपए दिए जाएंगे।
  2. इसके पश्चात् 1000 रुपए बेटी के जन्म के एक बर्ष बाद दिए जाएंगे।
  3. फिर 2000 रूपए प्रथम कक्षा में दाखिला लेने के समय मिलेंगे।
  4. फिर 2000 रुपए छठवीं कक्षा में दाखिला लेने के समय मिलेंगे।
  5. सरकार 3000 रुपए नौंवी कक्षा में दाखिला लेते वक्त देगी।
  6. 10वीं और 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आपको दो साल के डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लेने पर 5000 रुपए की मदद प्रदान की जाएगी।
  प्रदान की गई राशि लाभ लेने वाले लोगों के खाते में डायरेक्ट बैंक ट्रांसफर के माध्यम से जमा किया जाता है।

योग्यताएं

योजना का लाभ लेने के लिए निम्न योग्यताओं का होना अनिवार्य है:
  1. उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए। जिसके लिए स्थाई  निवास कार्ड होना चाहिए।
  2. निवास प्रमाण पत्र के तौर पर राशन कार्ड, आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, बिजली या टेलीफोन के बिल मान्य होंगे।

आवेदन करने की प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना को आफलाइन और आनलाइन दोनों तरह से आवेदन कर सकते हैं।
आनलाइन आवेदन करने के लिए आपको इसकी वेबसाइट  https://mksy.up.gov.in/ पर जाना होगा। यहां नागरिक सेवा पोर्टल के विकल्प पर क्लिक करके आनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
जो लोग आफलाइन माध्यम से आवेदन करना चाहते हैं वो BDO/SDM/प्रोबेशनरी ऑफिसर के कार्यालय में जाकर आवेदन पत्र जमा कर सकते हैं।

Check Also

शहीद सैनिकों के आश्रितों के लिए खुशखबरी, सरकार करेगी आर्थिक सहायता :

सैनिक सरहदों पर जब पहरेदारी करते हैं तब हम अपने घरों में चैन से सो ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *